31 दिसंबर 2011

जब तुझे रुकना ही नहीं है तो

समयसोचता हूँ तू किसी दिन अगर ठहर जाता तो मेरी सांसों का यह सफ़र भी थोड़ी देर के लिए विश्राम पाता और मैं करता तुझसे बातें तेरे साथ बिताये लम्हों कीऔर उस वक़्त मुझे लगता तू कहीं नहीं है और मैं भी कहीं नहीं. हम दोनों की एकात्मकता यह स्थापित करती कि जीवन और जगत संचालित हैं किसी अदृश्य सत्ता सेऔर वह अदृश्य सत्ता हम दोनों को बतला रही है जीवन के मायनें. तुम हमेशा उस अदृश्य सत्ता से निभा जाते होलेकिन मैं हमेशा तेरे अच्छे होने का इन्तजार करता रहता. तू अच्छा कब है और कब बुरा यह आज तक कोई नहीं जान पाया. लेकिन इस बात को सभी स्वीकार करते हैं कि वक़्त बड़ा बलवान होता है’. कई बार इस बात को सुनकर मेरे मन में भ्रम भी हुआलेकिन सच्चाई यही है. अब मैं भी यही मानता हूँ और आज तेरे सामने नतमस्तक हूँ. तुझे एक सीमा में बांधकर विदा करने के लिए. हालाँकि जो पैमाना हमने तुझे विदा करने के लिए तय किया है वह तो प्रकृति का बदलाब हैऋतुओं का रूपांतरण है और उस प्राकृतिक बदलाब में हमनें तुझे भी शामिल किया. चलो आज मानते हैं कि एक साल के रूप में तू हमसे विदा हो रहा है. लेकिन सच यह है कि यह सब सोच है और किसी हद तक यह सोच प्रासंगिक भी. ना जाने कब से यह सब चल रहा है और ना जाने कब तक चलता रहेगामेरी साँसों का सफ़र जब तक इस रूप में तेरे साथ है तब तक तो है हीऔर ना जाने कितने रूपों में रहा हैऔर ना जाने कब तक रहेगा. खैर बहुत हो चुकी बातें तुमसे और जितनी करूँगा काम तो आने वाली नहीं. जब तुझे रुकना ही नहीं है तो  मैं कैसे कहूँ कि तू ठहर जा.
याद आएगा तू मुझे  2011 के रूप में सांसों के अंतिम सफ़र तकजीवन की नियति तक. क्योँकि तुझसे बहुत अच्छी यादें जुडी हैं  मेरी वर्ष 2011 के रूप में. पता ही नहीं चला कि तू जीवन से कब जुदा हो गया. लेकिन जब पीछे मुड़कर देखा तो सच में तू मुझसे जुदा हो रहा है. अहसास हुआ मुझे आज तेरे होने काबहुत कुछ खोने और उससे ज्यादा कहीं पाने का. क्या-क्या नहीं दिया तूने मुझे पूरे   दिनों  मेंयह सब सोच कर रोमांचित हो रहा हूँ मैं और आने वाले वर्षों में जीवन जीने की प्रेरणा ले रहा हूँहालाँकि यह भी सच है कि जीवन और साँसों का सफ़र अनिश्चित हैलेकिन यह भी सही है कि साँसों के सफ़र के साथ ही जीवन का सफ़र भी जुड़ा रहेगा. बस यह बात अच्छी तरह से मेरे जहन में रहनी चाहिएफिर मैं किसी भी हालत में तुझे विस्मृत नहीं कर पाऊंगा और अगर मैंने तुझे कभी विस्मृत नहीं किया तो यह निश्चित है कि मेरे जीवन की सार्थकता किसी न किसी तरीके से सिद्ध ही हो जाएगी. क्योँकि मैंने जीवन में सफल लोगों से यही सुना है कि वक़्त की कद्र करोऔर यह भी सुना है कि जो वक़्त की कद्र करता है वक़्त उसकी कद्र करता हैइसलिए मुझे हमेशा तेरी कद्र का भान रहे . फिर भी वर्ष 2011 के रूप में तुझे अच्छी यादों के साथ विदा कर रहा हूँअब हम फिर वहीँ से शुरू करेंगे जहाँ से हमने तेरा साथ लिया थाजब तू आया था तो हमने खूब मस्ती की थी और तेरा स्वागत किया था हमने एक जनवरी 2011 के रूप में. आज फिर एक जनवरी है और उसे हम 2012 कहेंगे और सोचेंगे कि नया साल आया है और यह प्रक्रिया अनवरत चल रही है और चलती रहेगी. हम जीवन को एक प्रक्रिया के तहत जीते हैं और वह प्रक्रिया दिन, महीनों और सालों के रूप में हमारे जीवन में घटित होती है. 
खैर अब समय तू वर्ष 2012 के रूप में हमारे सामने हैं. हर किसी की जिन्दगी का अपना मकसद है और हर कोई जीवन को सफल बनाने में लगा है. इसलिए जब तू 2012 के रूप में हम सबके साथ है तो कामना यही है कि हर किसी को सुमति प्राप्त हो और हर कोई संकीर्णताओं से उपर उठकर देशसमाज और मानवता के लिए कार्य करे. आज जो रूप मानव का हमारे सामने है उससे हमें राहत मिले. देश और दुनिया में जो अशांति फैली हुई है वह जितनी जल्दी हो सके समाप्त हो और इस सुंदर सी धरती का वातावरण और सुंदर हो जाए. पूरी कायनात खुदा का कुनबा है और इस में रहने वाला हर एक प्राणी खुदा की खुबसूरत कृति है. ऐसा वातावरण बने कि हम इस पूरी कायनात से प्रेम कर सकें. हमारी शुभकामनाएं तभी असर करेंगी जब हमारा आचरण और कर्म सही होगा. इसलिए खुद के जीवन और चरित्र को विश्लेषित करने का भी एक अवसर तू हमें प्रदान कर रहा है और हम ऐसा कर पायें. जब धरती पर सभी मानवीय मूल्यों को धारण कर जीवन जीयेंगे तब हमारा अपना जीवन तो सार्थक होगा ही औरों के लिए भी हम प्रेरणा और सुख का कारण बनेंगे. इसी कामना के साथ आप सभी को नववर्ष 2012 की हार्दिक शुभकामनाएं. ईश्वर से यही प्रार्थना है कि आने वाला वर्ष हम सब की जिन्दगी में ढेर सारे सुखद अहसास लाये और हम सबका जीवन खुशियों से सराबोर हो. इन्हीं कामनाओं के साथवर्ष 2012  तेरा स्वागत है.

37 टिप्‍पणियां:

  1. आपको भी नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप को सपरिवार नव वर्ष २०१२ की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपको और आपक‍े परिवार को भी नव वर्ष की शुभकामनाएं......
    नया साल आपके जीवन में समृध्दि और खुशहाली लेकर आए.....

    उत्तर देंहटाएं
  4. नववर्ष की आपको बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.
    अपने सुन्दर लेखन से आप ब्लॉग जगत को सदा ही
    आलोकित करते रहें यही दुआ और कामना है.

    आपसे परिचय होना वर्ष २०११ की एक सुखद उपलब्धि रही.

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपको और आपके परिवार को नए साल की हार्दिक शुभकामनाएं!

    शुभकामनओं के साथ
    संजय भास्कर

    उत्तर देंहटाएं
  6. नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपको और परिवारजनों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  9. नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाओ के साथ आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी प्रस्तुति आज के तेताला का आकर्षण बनी है
    तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
    अवगत कराइयेगा ।

    http://tetalaa.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  10. केवल राम जी, बहुत खूबसूरती से आपने जाते साल को विदाई दी है.. यह साल आपके लिए और आपके परिवार के लिए सुखमय हो यही प्रार्थना है हमारी!!

    उत्तर देंहटाएं
  11. बडा नहीं इन्सान, बड़ा नहीं भगवान
    ज़मीं आसमान से कहता, समय बडा बलवान :)

    उत्तर देंहटाएं
  12. समय के दो अर्थ हैं.
    एक, जब समय आपसे आगे-आगे दौड़ता चला जा रहा होता है.
    दो, उम्र के एक पड़ाव के बाद इन्सान चाहता है कि समय उससे आगे निकल जाए तो ही बेहतर...

    उत्तर देंहटाएं
  13. जीवन दर्शन की सटीक व्याख्या. आपके हर शब्द प्रेरक होते हैं और आलोड़ित करते हैं. पुराने की विदाई और नए का स्वागत में आपने समय को वाहक बनाकर सभी पाठकों को शुभ सन्देश दिया है. आभार !
    नववर्ष 2012 आपको भी मंगलमय हो !!

    उत्तर देंहटाएं
  14. समय कब किसके रोके रुका है ...
    आपको भी नववर्ष की बहुत शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  15. नववर्ष की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  16. नववर्ष की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  17. आप को सपरिवार नव वर्ष 2012 की ढेरों शुभकामनाएं.

    इस रिश्ते को यूँ ही बनाए रखना,
    दिल मे यादो क चिराग जलाए रखना,
    बहुत प्यारा सफ़र रहा 2011 का,
    अपना साथ 2012 मे भी इस तहरे बनाए रखना,
    !! नया साल मुबारक !!

    आप को सुगना फाऊंडेशन मेघलासिया, आज का आगरा और एक्टिवे लाइफ, एक ब्लॉग सबका ब्लॉग परिवार की तरफ से नया साल मुबारक हो ॥


    सादर
    आपका सवाई सिंह राजपुरोहित
    एक ब्लॉग सबका

    आज का आगरा

    उत्तर देंहटाएं
  18. " गुजरा हुआ जमाना आता नहीं दुबारा" ऐ खुदा तेरा धन्यवाद ! सच कहा कहने वाले ने जो बीत गई वो कल कभी नहीं आती ...हमें पल -पल उसके साथ ही टिक --टिक --टिक चलना हैं ! इसलिए परिवर्तन प्रकृति का नियम हैं और हमको उसके साथ ही ख़ुशी -ख़ुशी चलना हैं ....नूतन वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाओं सहित ....

    उत्तर देंहटाएं
  19. bahut khoob kewal raam
    waqt hamesha yaado ke roop mein apani chaap chod jata hain

    nav varsh ki bahut bahut shubhkaamnaye
    think positive

    उत्तर देंहटाएं
  20. आपको और परिवारजनों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ|

    उत्तर देंहटाएं
  21. नववर्ष की अनंत शुभकामनाएं ।

    उत्तर देंहटाएं
  22. समय के साथ चलते हुवे उसकी कद्र करते हुवे कम से कम कुछ छूटता नहीं है ... बाकी वो तो चलता ही रहता है ...
    आपको सपरिवार २०१२ के आगमन की बधाई ...

    उत्तर देंहटाएं
  23. नववर्ष की बहुत बहुत शुभकामनायें ..

    सच है है कि २०११ ने जीवन में बहुत कुछ ऐसा दिया जिसकी कभी उम्मीद नहीं रखी थी ...कभी कभी जाने अंजाने ऐसा हो जाता है जिसको हम अच्छी यादो के रूप में हर वक्त अपने साथ रखते है ....लेख की सच्चाई पूरा पढ़ने के बाद ज्यादा निखर के सामने आती हैं ...

    उत्तर देंहटाएं
  24. आपकी 'निगाहें तलाशती हैं'
    में
    'मनसा वाचा कर्मणा
    2 हफ़्ते पहले' का हो चुका है.

    पिछला वर्ष बीत गया और नया भी २ दिन
    पुराना हो गया है.

    पर उम्मीद पर दुनिया कायम है जी.

    करते हैं इंतजार...इंतजार...बस इंतजार जी.

    उत्तर देंहटाएं
  25. बहुत अच्छी रचना .. नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  26. बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
    नव वर्ष की शुभकामनायें|

    उत्तर देंहटाएं
  27. आपको एवं आपके परिवार के सभी सदस्य को नये साल की ढेर सारी शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  28. वाकई, समय का चक्र कभी रुकता नहीं। शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  29. आपको भी नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  30. आपको नववर्ष की बहुत बहुत मंगल कामनाएँ....

    उत्तर देंहटाएं
  31. अरे, मेरा कमेंट कहाँ गायब हो गया?

    उत्तर देंहटाएं

जब भी आप आओ , मुझे सुझाब जरुर दो.
कुछ कह कर बात ऐसी,मुझे ख्वाब जरुर दो.
ताकि मैं आगे बढ सकूँ........केवल राम.