12 जनवरी 2011

भावनाओं को नहीं मिल पाए 'शब्द'


जब भी किसी व्यक्ति की जिन्दगी में कोई ख़ुशी का समय आता है तो वो अपनी भावनाओं को शब्द नहीं दे पाता है .और ऐसा अक्सर तब होता है जब व्यक्ति को कोई मन वांछित फल मिल जाये . ब्लॉग की दुनिया भी ऐसी ही है .जहाँ पर लेखन के साथ -साथ टिप्पणियों  का बहुत महत्व है . क्योंकि सार्थक लेखन के लिए टिप्पणियाँ बहुत बड़ी भूमिका निभाती हैं . और अगर मुझ जैसे ब्लॉगर को किसी पोस्ट पर सौ से अधिक टिप्पणियाँ  मिल जाएँ तो इससे बड़ी ख़ुशी  की बात क्या हो सकती है . आप सबका धन्यवाद करना मेरे बस की बात नहीं है ...बस यही प्रार्थना करूँगा कि आप अपना प्रोत्साहन और प्यार इस नाचीज पर अनवरत रूप से बनाये रखना . मैं आजीवन  ऋणी हूँ आप सबका कि आपने मुझे इस काबिल समझा .मेरी पोस्ट " मैं  कैसे कहूँ कि तू ठहर  जा " पर आपके द्वारा कि गयी सौ से अधिक टिप्पणियाँ आपके प्यार और प्रोत्साहन का परिणाम हैं ..इसलिए वर्ष 2011 की पहली पोस्ट आप सबको समर्पित है ..आपके आशीर्वचनों के साथ ... पोस्ट लम्बी ना  हो जाये इसलिए सभी के लिंक देने के साथ - कुछ प्यारी सी पंक्तियों  का जिक्र भी करूँगा : आपके प्यार और स्नेह का परिणाम है यह पोस्ट : अब सिलसिला शुरू करते हैं :-

संजय भास्कर जी: इस रचना में एक छुपा हुआ सन्देश है जिसे आपने उजागर कर दिया,बहुत धैर्य बंधाने वाला और आश्वस्त करने वाला सार्थक सन्देश समेटे एक भावपूर्ण रचना बहुत ही जबरदस्त लिखा है. आपकी अब तक की सभी पोस्टो में से...सबसे बेस्ट पोस्ट लगी है सुंदर लेखन के लिए बहुत-बहुत बधाईहरकीरत ' हीर' जी : सबसे महत्वपूर्ण यह रहा कि इस वर्ष मेरा " ब्लॉग जगत" में प्रवेश हुआ वो भी एक घटना थी...और बहुत महत्वपूर्ण घटना...यहाँ पर आकर मैं धन्य हो गया...इस नाचीज को बहुत सम्मान और स्नेह मिला है...इसलिए आपको 2010 की बधाई ...!! राजेन्द्र स्वर्णकार जी अलविदा 2010 आलेख आपने इतनी लगन और मेहनत से तैयार किया है..तारीफ़ के लिए शब्द कम पड़ रहे हैं । बधाई और साधुवाद !   देवेन्द्र पाण्डेय जी  : काफी मेहनत की है आपने इस पोस्ट को तैयार करने में। दिल से नववर्ष मनाने...विदा करने व स्वागत करने का आपका अंदाज मनोहारी है। POOJA...जी : वाह जी वाह... इतनी खूबसूरत और प्यारी शुभकामनाएं...आपका अंदाज़ वाकई बहुत निराला है..पर शुभकामनाओं की सूची में खुद को नहीं पाया... :(पर फ़िर ब्लोगर्स के लिए शुभकामनाएं देख तसल्ली हुई...शुक्रिया...and same goes for you too... डॉ॰ मोनिका शर्मा   : मेरी शुभकामना समाज के हर उस व्यक्ति को है जो हमारे समाज और देश में फैली अव्यवस्था को व्यवस्थित करने में ...और की सामाजिक कुरीतिओं को मिटाने के लिए निरंतर प्रयासरत है।समय के हर रंग को समेटे एक उम्दा सन्देश देती प्रस्तुति. प्रवीण पाण्डेय जी : समय की गति को न ठहरायें, उसे बस बढ़ जाने दें। नरेश सिह राठौड़ जी   : समय बढ़ता हुआ अच्छा लगता है | रूका हुआ तो पानी भी बदबूदार हो जाता है | इस लिए समय मजे से बीते वो ही श्रेष्ठ है | एस. एम्. मासूम जी : बहुत ही खूबसूरत अंदाज़ में आपने नए वर्ष का स्वागत किया है मेरी भी शुभकामनाएं और मैं भी पूरे विश्व में शन्ति और सद्भाव की कामना करता हूँ ...इंसानियत और भी बढे, हम एक दुसरे के करीब आ पायें .जय कुमार झा जी  : बहुत ही सुन्दर और सार्थक प्रस्तुति..नये साल में हम सबको तथा हमारे बच्चों को ईमानदारी तथा सद्कर्म से जीने के लिए मूलभूत आवश्यकता की वस्तु सहज उपलब्ध हो यही मेरी कामना है...पूनम जी bahut khoob, aapne bahut hi achhe tareeke se jaane wale waqt ko vida किया, aur aane wale ka hardik swagat bade anuthe dhang se kiya. sahi mayne me aapne waqt ki pahchan karai hai. Bah  shandar avam sashkt prastuti. Minakshi Pant जी  बिता हुआ समय हमे बहुत सी यादे दे कर जाता है और आने वाला समय कुछ  अच्छा करते रहने को प्रेरित करता है आपने दोनों को सम्मान दिया जाते साल को प्यार से अलविदा और आने वाले का स्वागत ! बहुत खुबसूरत पोस्ट.Rajiv जी    बेहद सराहनीय लेख है.सन्देश उससे भी अच्छा है.बादलों की छांव तले खड़ा और सूरज की रौशनी में नहाया हुआ बर्फ से आच्छादित पहाड़ की तस्वीरें भी शायद पूर्व वर्ष की विदाई और नववर्ष के आगमन की ओर ही इशारा कर रहे हैं. ललित शर्मा जी: नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनाएं संध्या जी: सुन्दर रचना Leejiye century bhi poori kar dete hain... Nice writing ..Keep it up... God Bless u ...आपकी शुभकामनाओं का यह सिलसिला अनवरत रूप से जारी है ..अब आगे बढ़ते हैं : -

अरविन्द जांगिड जी @'उदय' जी@ Kunwar Kusumesh जी सतीश सक्सेना जी नीरज जाट जी संगीता स्वरुप जी (गीत ) @ P S Bhakuni जीवन्दना जी@ yogendra जी  @ उपेन्द्र ' उपेन ' जी   @ सोमेश सक्सेना जी @   सुरेन्द्र सिंह     अरूण साथी जी सुशील बाकलीवाल जी सुबीर रावत जी शिक्षामित्र @ मनोज कुमार जी @ राज भाटिय़ा जी @शमीम @ विरेन्द्र सिंह चौहान @ज्ञानचंद मर्मज्ञ जी @ डॉ टी एस दराल जी  @  वन्दना अवस्थी दुबे जी सुज्ञ जी @ रोशनी जी @ सुशीला पुरी जी  अल्पना वर्मा जी आशीष @ अरुण चन्द्र रॉय जी @ निर्मला कपिला जी   @ जयकृष्ण राय तुषार जी  फ़िरदौस ख़ान जी दिगम्बर नासवा जी  @  शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' जी रचना दीक्षित जी   @ ZEAL (दिव्या जी) @ Meenu Khare जी  @ विजय प्रताप सिंह राजपूत Er. सत्यम शिवम जी vedvyathit जी Dr. Ashok palmist जी  @  Asha जी @ Mithilesh dubey जी @ रश्मि प्रभा जी Dr Varsha Singh   @ ashish जी @ प्रेम सरोवर जी @ Rahul Singh जी  @ Apanatva जी   @  Vijai माथुर जी  @   boletobindas @ Sawai Singh Rajpurohit @ amit-nivedita  @ Bhushan  @ deepak saini   @ Dorothy  Patali-The-Village  @ Amrita Tanmay  @ mahendra verma  @ RAJEEV KUMAR KULSHRESTHA    @ Kailash C Sharma  @ Harsh  @ Indranil Bhattacharjee   @ स्वाति जीkshama  @ डॉ० डंडा लखनवी जी   arganikbhagyoday   प्रकाश बादल जी  @  manav vikash vigyan aur adytam  मनोज भारती जी  @  ज़ाकिर अली रजनीशजी @ Harman @ Bajang   @ Priti Krishna @ Mukesh Kumar Sinha. 

आपका सहयोग और प्यार ना  मिलता तो आगे बढ़ पाना मुश्किल था ...आपको सम्मान स्वरूप और क्या किया जा सकता था ..आशा है आपको मेरा यह प्रयास पसंद आएगा ...सभी लिनक्स देने का प्रयास किया है ..फिर भी अगर कोई छुट गया हो तो अवश्य अवगत करवाने की कृपा करें ...आप सबका धन्यवाद ..उत्साहवर्धन के लिए .

71 टिप्‍पणियां:

संजय भास्कर ने कहा…

केवल राम जी
ये सही तरीका रहा!! बधाई.
यह आपकी ही मेहनत का फल है ।

संजय भास्कर ने कहा…

शतक तो बधाई कुछ मीठा हो जाये !

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

आपकी साहित्यिक यात्रा महत्वपूर्ण पड़ाव प्राप्त करे, उसकी प्रतीक्षा में हैं, हम सब।

Udan Tashtari ने कहा…

अनेक शुभकामनाएँ.

निर्मला कपिला ने कहा…

बस ऐसे ही शतक लगाते रहो। बहुत बहुत बधाई और आशीर्वाद।

एस.एम.मासूम ने कहा…

केवल जी कमाल हम टिप्पणी करने वालों का नहीं आप कि कविताओं और लेख का है. और उस से अधिक आप कि इमानदार सोंच का है. एल दिन आप बहुत आगे जाएंगे.
स.म.मासूम
http://www.amankapaigham.com

sada ने कहा…

बहुत ही सुन्‍दर लेखन ...जिसके लिये बधाई एवं शुभकामनायें ।

: केवल राम : ने कहा…

@>>> संजय भास्कर जी
प्रोत्साहन के लिए आभार
@>>> प्रवीण पाण्डेय जी
आपका मार्गदर्शन बना रहा तो जरुर यह पड़ाव भी आएगा
@>>> Udan Tashtari ( समीर लाल जी )
आपका शुक्रिया
@>>>निर्मला कपिला जी
अपना आशीर्वाद हमेशा बनाये रखना
@>>> एस.एम.मासूम जी
एक हाथ से ताली नहीं बजती ...आपका आभार इस तारीफ के लिए

अन्तर सोहिल ने कहा…

शतक लगाने की हार्दिक बधाई

प्रणाम

अन्तर सोहिल ने कहा…

इसी तरह नित ऊंचाईयों को छुते जाओ, यही कामना है।

deepak saini ने कहा…

शतक के लिए शुभकामनायें

रश्मि प्रभा... ने कहा…

jab shabd nahin milte to asar aur gahra ho jata hai......

humsab ki shubhkamnayen

सतीश सक्सेना ने कहा…

एक अच्छे लेखक के लिए जो गुण होने चाहिए वे सब आपके अन्दर है केवलराम ! हर जगह आप अपनी पहचान आसानी से बना लेंगे !
हार्दिक शुभकामनायें

: केवल राम : ने कहा…

@>>> sada जी
@>>> अन्तर सोहिल जी
@>>> deepak saini जी
@>>>रश्मि प्रभा... जी
सच कहा है ..!
@>>> सतीश सक्सेना जी
आप सबका बहुत बहुत शुक्रिया ...अपना आशीष यूँ ही बनाये रखना ...बहुत बहुत आभार

Rahul Singh ने कहा…

बड़ी मेहनत की है आपने, समय लगाया है. पोस्‍ट पर टिप्‍पणी, टिप्‍पणी पर पोस्‍ट और अब फिर पोस्‍ट पर टिप्‍पणी दर्ज करना ब्‍लॉग जगत की परिक्रमा जैसा है.

अरविन्द जांगिड ने कहा…

प्रथम तो आपको साधुवाद. आपकी रचनाये और ज्यादा निखरे, ईश्वर से प्रार्थना है. बहुत बहुत बधाई एंव शुभकामनाएं.

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

satish sir se purn sahmat...:)

waise aap bhi Sanjay bhaskar kee tarah unbeaten century lagane wale ho...:)

'उदय' ने कहा…

... shubhakaamanaayen !!

Kailash C Sharma ने कहा…

बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं..

संजय भास्कर ने कहा…

केवल जी ... आपकी पोस्ट थी ही इतनी लाजवाब .. प्यार तो मिलना ही था ....

संजय भास्कर ने कहा…

केवल जी ... आपकी पोस्ट थी ही इतनी लाजवाब .. प्यार तो मिलना ही था ....

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " ने कहा…

aur aage badhen ..
hardik shubhkamnayen.

babanpandey ने कहा…

a good way to give thankness/

Kunwar Kusumesh ने कहा…

Best of luck for current yeat too.

संजय कुमार चौरसिया ने कहा…

आपकी साहित्यिक यात्रा महत्वपूर्ण पड़ाव प्राप्त करे, उसकी प्रतीक्षा में हैं, हम

बस ऐसे ही शतक लगाते रहो। बहुत बहुत बधाई और अनेक शुभकामनाएँ.

सुबीर रावत ने कहा…

केवल जी, पाठकों के दिल को छू लेने का एक अच्छा प्रयास ......... पर आप तो केवल जी! पहले ही सैकड़ों के चहेते है, क्योंकि आपकी रचनाएँ है ही कुछ ऐसी ......... बेहतरीन. बधाई.

: केवल राम : ने कहा…

@>>> Rahul Singh जी
धरती गोल है ..इसलिए ऐसा ही होता है ..
@>>> अरविन्द जांगिड जी
आपकी प्रार्थना जरुर रंग लाएगी ..शुक्रिया
@>>> Mukesh Kumar Sinha जी
आपका आभार हौसला अफजाई के लिए
@>>> 'उदय' जी
यह सब आपकी शुभकामनाओं का ही परिणाम है
@>>> Kailash C Sharma जी
आपका बहुत बहुत आभार ..अपना आशीर्वाद यूँ ही बनाये रखना ..शुक्रिया

: केवल राम : ने कहा…

@>>> संजय भास्कर जी
आपका आभार प्रकट करना मेरे बस की बात नहीं ..किन शब्दों से क्या कहूँ समझ नहीं आता ...
@>>> सुरेन्द्र सिंह " झंझट " जी
आपकी शुभकामनायें जरुर रंग लायेंगी
@>>> babanpandey जी
यह सब आपने सिखाया है
@>>> Kunwar Kusumesh जी
ऐसी दुआ करते रहना ...
@>>> संजय कुमार चौरसिया जी
यह सब आपके मार्गदर्शन और प्यार से ही संभव हो पायेगा ..आप सबका आभार

सुज्ञ ने कहा…

प्यार बांटते हो 'केवल'
तो बदले में प्यार ही मिलेगा।

निश्छल व्यक्तित्व की और लोग आगे बढते ही है।

अनंत शुभकामनाओं सहित,

sandhya ने कहा…

केवल राम जी , जितनी सुंदर आपकी रचनाएँ है, उतना ही खूबसूरत आपका आभार व्यक्त करने का अंदाज है, इसी तरह आगे बढते रहिये और सृजन करते रहिये अनुपम कविताओं का.......

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" ने कहा…

मेरी ओर से भी हार्दिक शुभकामनाएँ!
खटीमा ब्लॉगर मीट और विमोचन समारोह में पधारने के लिए आपका आभार!

Dr. Ashok palmist blog ने कहा…

केवल राम जी आप बहुत अच्छा लिख रहेँ और आपकी महनत तो रंग लाएगी ही ।
आप बढ़िया लिखते रहेँ और शतक लगते रहेँ यही इच्छा रखते है आपसे । आभार ।

"गजल...........आईँ थी जब सामने मेरे तुम"

: केवल राम : ने कहा…

@>>> सुबीर रावत जी
आपका प्यार हमेशा बना रहे
@>>> सुज्ञ जी
आपकी शुभकामनायें निश्चित रूप से निश्छल व्यक्तिव प्रदान करेंगी
@>>> sandhya जी
यह अंदाज आपको पसंद आया ..यह आपकी नजर है
@>>> डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" जी
आपका आभार जो आपने हमें यह अवसर प्रदान किया ..आपका आभार इस आयोजन के लिए ...आपकी प्रत्येक टिप्पणी महत्वपूर्ण है ...शुक्रिया आपका अनुसरण के लिए
@>>> Dr. Ashok palmist जी
यह आपकी नजर है भाई ..शतक तो आपकी टिप्पणियों से लगा करेंगे ..हमारे प्रयास को रंग लायेंगी आपकी प्रतिक्रिया ..शुक्रिया

राज भाटिय़ा ने कहा…

हम तो भईया हमेशा कहते हे, कि दुनिया मे सिर्फ़ ओर सिर्फ़ राम हे, यानि सिर्फ़ ओर .... केवल ... राम, ओर हमारे केवल राम जी अब शतक पुरा होने पर मिठाई हो जाये.... चलिये हमारे नाम से जल्दी से एक गर्म गर्म गुलाब जामुन मुंह मे डाल ले, इस खुशी के मोके पर, ओर जल्द ही १०००वी टिपण्णियां भी मिले आप को, हमारी शुभकामनाऎ

दिनेश शर्मा ने कहा…

बहुत खूब।शुक्रिया।

ZEAL ने कहा…

आपकी ब्लॉग यात्रा सुखद रहे ।
बधाई एवं शुभकामनायें ।

मनोज कुमार ने कहा…

विनम्रता से जग जीता जा सकता है, आपने दिल जीत कर शुरुआत कर दी है।

Bittu Suryavanshi ने कहा…

आपकी पोस्ट का इन्तजार रहता है ...नव वर्ष की शुभकामनाओं पर लिखी गयी आपकी पोस्ट सही मायने में वक़्त की पहचान करवाती है ....आपका धन्यवाद करना का तरीका भी पसंद आया .....अनवरत लिखते रहें ...

Bittu Suryavanshi ने कहा…

आपकी पोस्ट में लिखे गए शब्दों का जिन्दगी के साथ गहरा रिश्ता बनता जा रहा है ...और आप इसी कला के माध्यम से मनुष्य के लिए भावनात्मक रूप से अंतर्संबंध स्थापित करते जा रहे हैं ...शुभकामनायें

Sunil Kumar ने कहा…

शतक लगाते रहो। बहुत बहुत बधाई ...

P S Bhakuni ने कहा…

मकर संक्राति ,तिल संक्रांत ,ओणम,घुगुतिया , बिहू ,लोहड़ी ,पोंगल एवं पतंग पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं........

: केवल राम : ने कहा…

@>>> राज भाटिय़ा जी
आपका आभार इस नजरिये के लिए
@>>> दिनेश शर्मा जी
आपका आभार
@>>> ZEAL ( दिव्या जी )
आपका शुक्रिया
@>>> मनोज कुमार जी
आपका मार्गदर्शन यहाँ तक ले आया है
@>>> Bittu Suryavanshi जी
आपका शुक्रिया मेरे ब्लॉग तक आने के लिए ..और दो टिप्पणियों के लिए ..
आप सबका शुक्रिया

POOJA... ने कहा…

अब क्या कहूँ???
बहुत खूब..."
हाँ शायद यही सही रहेगा...

Patali-The-Village ने कहा…

शतक लगाने की हार्दिक बधाई|

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

आभार .... सतत लेखन की ढेरों शुभकामनाएं.......

: केवल राम : ने कहा…

@>>> Sunil Kumar जी
आपका आभार ..इस शुभकामना के लिए
@>>> P S Bhakuni जी
आपको भी ढेरों बधाईयां
@>>> POOJA...जी
आप सबने सौ से ज्यादा टिप्पणियाँ की तो मैं भी कुछ नहीं कह पाया ..शुक्रिया
@>>> Patali-The-Village
इन शुभकामनाओं के वास्तविक हकदार आप भी हैं
@>>> डॉ॰ मोनिका शर्मा जी
आपका बहुत बहुत आभार

प्रेम सरोवर ने कहा…

भाई केवल राम जी,
आपका परिश्रम और लगन ही आपको इस मुकाम पर लाएं हैं।मैं आपके प्राय:हर पोस्ट को अच्छी तरह से पढ़ा हूं।हर पोस्ट का अंदाज एवं शैली मन को भाया।भगवान से गुजारिश रहेगी कि आप नित नई उंचाईयों को स्पर्श करते रहें।
:तुझे और क्या दूं मैं दिल के सिवाय,
तुमको हमारी उमर लग जाए।:
नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनाएं।

sandhya ने कहा…

Naye roop aur rang me aapka blog bahut hi khoobsoorat, Hamari shubhkamnayen hai ye rang yu hi khilte rahen....

उपेन्द्र ' उपेन ' ने कहा…

कमाल है हमारा भी नाम है.......... अच्छा लगा भाई जी ये अंदाजे शुक्रिया .आभार

nilesh mathur ने कहा…

बधाई हो!

POOJA... ने कहा…

51st:- :)
मकर संक्रांति, लोहरी एवं पोंगल की हार्दिक शुभकामनाएं...

: केवल राम : ने कहा…

@>>> प्रेम सरोवर जी
आपकी नजर है यह सब ..किसी भी मुकाम के लिए मेहनत तो करनी पड़ती है ...आप अपना आशीष यूँ ही बनाये रखना ..ताकि सफ़र आसानी से कट जाए ..आपका आभार प्रोत्साहन के लिए
@>>> sandhya जी
यह आपके मार्गदर्शन का परिणाम है ..यूँ ही कृपा बनाये रखना ..
@>>> उपेन्द्र ' उपेन ' जी
आपको अंदाज पसंद आया ..मेरे श्रम कि सार्थकता सिद्ध हो गयी
@>>>nilesh mathur जी
आपका आभार ...
@>>> POOJA...जी
आपको भी हार्दिक शुभकामनायें ...स्वीकार करें ..आपका आभार

ज्ञानचंद मर्मज्ञ ने कहा…

केवल राम जी,
आपका आने वाला वर्ष उन्नति के पथ को और भी प्रशस्त करे !
मेरी हार्दिक शुभकामनाएं!
-ज्ञानचंद मर्मज्ञ

सुज्ञ ने कहा…

*****************************************************************
उतरायाण: मकर सक्रांति, लोहड़ी, और पोंगल पर बधाई, धान्य समृद्धि की शुभकामनाएँ॥
*****************************************************************

विरेन्द्र सिंह चौहान ने कहा…

केवल राम जी....सबसे पहले तो आपको मकर संक्रांति के अवसर पर ढेरों शुभकामनाएँ।


और अब आपको आपकी उपलब्धियों के लिए हार्दिक बधाई। ईश्वर आपको बुलंदियों पर पहुचाएँ। मेरी ऐसी इच्छा है। आप इसी तरह सार्थक लेखन करते रहें।

Suman ने कहा…

bahut bahut shubh kamanaye..........
mere blog par ane ka shukriya....

mahendra verma ने कहा…

आपके लिए सप्रेम शुभकामनाएं।

: केवल राम : ने कहा…

@>>> ज्ञानचंद मर्मज्ञ जी
@>>> सुज्ञ जी
@>>> विरेन्द्र सिंह चौहान जी
@>>>Suman जी
@>>> mahendra verma जी
आप सबका ह्रदय से आभारी हूँ ...आपने इतना प्यार दिया ..आप अपने यह स्नेह और मार्गदर्शन यूँ ही बनाये रखना ..शुक्रिया आप सबका

हरकीरत ' हीर' ने कहा…

कलम खुद अपनी पहचान होती है .....
निसंदेह आप अच्छा लिखते हैं ....

अल्पना वर्मा ने कहा…

बहुत मेहनत से तैयार की है ये पोस्ट.
सब के नाम के साथ लिंक्स लगाना बड़ा समय लेता है और श्रम भी.
बहुत बहुत बधाई .

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

इसके लिए केवल और केवल आप बधाई के पात्र हैं।

---------
डा0 अरविंद मिश्र: एक व्‍यक्ति, एक आंदोलन।
एक फोन और सारी समस्‍याओं से मुक्ति।

Amrita Tanmay ने कहा…

आपकी मेहनत का ही परिणाम है .भला आपको स्नेह क्यों नहीं मिलता एक बार फिर आपका धन्यवाद कहने का अंदाज़ पसंद आया . जारी रखिये ..आगे भी मिलता रहेगा

Rajey Sha ने कहा…

जब भी आप आओ , मुझे सुझाब जरुर दो.
कुछ कह कर बात ऐसी,मुझे ख्वाब जरुर दो.
ताकि मैं आगे बढ सकूँ........केवल राम.

और आगे कहां जाना है....डि‍यर।

Kajal Kumar ने कहा…

बहुत विहंगम पठन किया है भई आपने.

: केवल राम : ने कहा…

@>>> हरकीरत ' हीर' जी
यह आपकी नजर और प्रेरणा है ..
@>>> अल्पना वर्मा जी
मेरे पास शब्दों का आभाव हो गया तो यह करना पड़ा ..हा ..हा..हा..
@>>> ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ जी
@>>> Amrita Tanmay जी
आपका धन्यवाद इस प्रेरणा के लिए
@>>>Rajey Sha जी
आगे तब पता चलता जब आप पोस्ट पढ़ते ..कि मुझे कहाँ जाना है ..शुक्रिया इस टिप्पणी के लिए

Arvind Mishra ने कहा…

वाह यहाँ तो पूरा धन्यवाद समारोह है -अमेरिका की थैंक्स गिविग शरमाये !

: केवल राम : ने कहा…

@>>>Kajal Kumar जी
@>>> Arvind Mishra जी
प्रोत्साहित करने वाली इन प्रतिक्रियाओं के लिए आपका शुक्रिया ....

दिगम्बर नासवा ने कहा…

बधाई का ये तरीका भी लाजवाब है केवल जी ...
पुनः बधाई ...

Vijai Mathur ने कहा…

केवलराम जी ,
आपने लेख में मेरा नामोल्लेख किया बहुत -बहुत धन्यवाद.केवलराम जी ,
आपने लेख में मेरा नामोल्लेख किया बहुत -बहुत धन्यवाद.केवलराम जी ,
आपने लेख में मेरा नामोल्लेख किया बहुत -बहुत धन्यवाद.

Ankur jain ने कहा…

kevalji shubhkamnayen!!!!!!!

: केवल राम : ने कहा…

@>>>दिगम्बर नासवा जी
@>>>Vijai Mathur जी
@>>>Ankur jain जी
आप सबका ह्रदय से आभार ....अपना मार्गदर्शन यूँ ही बनाये रखना ...शुक्रिया